What is Internet Service Provider in hindi | इंटरनेट सर्विस प्रोवाइडर क्या है पूरी जानकारी हिंदी में

 पूरी दुनिया में 17 तरह के Service Provider हैं। Lekin हम यहां पर Internet Service Provider के बारे में जानकारी देने वाले हैं कि ISP (Internet Service Provider) क्या है? ये कैसे काम करता है?

What is Internet Service Provider in hindi | इंटरनेट सर्विस प्रोवाइडर क्या है पूरी जानकारी हिंदी में
What is Internet Service Provider in hindi | इंटरनेट सर्विस प्रोवाइडर क्या है पूरी जानकारी हिंदी में

आज के इस पोस्ट में Srvice Provider के बारें में बताने वाले हैं। जब एक कस्टमर किसी दुकान या Online website से Product खरीदता है तो उसके बदले में उस कंपनी Customer को Company जरूरत के समय सेवा प्रदान करने का वादा करते हैं। 

ये Service किसी भी प्रकार के हो सकती है जैसे Product को खराब होने पर उसकी मरम्मत करना, Product इस्तेमाल करने के लिए Guide करना। Product का इस्तेमाल करते समय कोई दिक्कत आई तो उसे सरलता से संभालना इत्यादि कम सर्विस प्रोवाइडर का होता है।

उसी तरह जब हम Internet का इस्तेमाल करते हैं तब हमे Internet Service Provider अलग अलग तरीके से सेवा प्रदान करते हैं। internet से जुड़े रहने के लिए हमें पास एक ISP का Access होना बहुत जरूरी है जो हमे internet प्रदान करता है।

हम सभी को Computer और Smartphone में Internet चलाने के लिए किसी न किसी Internet Service Provider की आवश्यकता होती हैं। जैसे की हम अपने फोन में Internet चलाने के लिए Bsnl, Idea, Vodaphone, Airtel, Jio इत्यादि में से किसी एक सिम का उपयोग करते हैं।

हम जिस Company का सिम उपयोग कर चलाते हैं वही Company हमे ISP यानी Internet Service Provider होता है। तो चलिए जानते हैं कि ये ISP क्या है।

What is Internet Service Provider। | इंटरनेट सेवा प्रदाता क्या है ?

ISP Meaning | ISP का full form है Internet Srevice Provider जिसे हिंदी में अंतरजाल सेवा प्रदाता कहा जाता है। इस Internet Service Provider ऐसी Company या संस्था को कहते हैं जो लोगो और छोटे बड़े सभी संस्थानों को Internet Provider का काम करते हैं चाहे हम घर पर हों, Office में हो।
जब हम Internet से जुड़ते हैं तब हमें Internet के साथ हमारे device का Connction एक ISP के जरिए जुड़ता है। एक ISP Inetrnet के Gateway यानी कि प्रवेश द्वार प्रदान करता है। ISP Internet के साथ साथ कई अन्य Services भी प्रदान करता है। जैस web पेज hosting, Domain Name Ragistration, Mail Services, File Transfer इत्यादि।
किसी अन्य company के तरह Internet सेवा प्रदाता अपनी सेवाओं के लिए यूज़र से पैसे लेते हैं। ISP User से दो प्रकार की शुल्क लेती हैं। पहला Internet प्रदान कराने के लिए और दूसरा Internet Connection देने के लिए। जैसे कि Brodband
Users को Internet Connection लेने और Internet प्रयोग करने का शुल्क ISP को देना पड़ता है। ये शुल्क User से समयावधि, दूरी, गति, डाटा डाउनलोड या अपलोड के मात्रा के अनुसार होता है। Internet Service Providers अलग अलग Technology का उपयोग करके User को सुविधा उपलब्ध कराते हैं। Mordern, Dial-up, Internet Access, Dsl, Cable Internet, Wireless, Broadband, wifi, Internet, Ethernet जैसी Technology का उपयोग कर User तक Internet पहुंचाया जाता है। 
इन सभी Technology का उपयोग ISP User के Demand पर करते हैं। जैसे की छोटे और काम Area के अंदर Internet की सेवा प्रदान करने के लिए ISPS, DSL, Cable Mode, Wifi, Internet के मदद लेते हैं, जिन्हे बड़े पैमाने या Business के लिए Internet की आवश्यकता होती है।
ISPS उन्हें Ethernet, Metro Ethernet और Frame Relay माध्यम से Internet प्रदान करते हैं। ये ISP हैं जो User को Internet इस्तेमाल करने में सक्षम बनाते हैं। अगर आपके पास एक Computer है जिसके साथ Morderm या Networking के लिए Router लगा हुआ है। लेकिन अगर आपका Network ISP के साथ Connect नही है तो आपके Device के साथ Internet से Connection नही होगा।
इसीलिए किसी भी माध्यम को ISP के साथ Connect होकर रहना ही पड़ेगा। तभी Internet प्रदान किया जा सकता है।

ISP is divided into how many categories | आईएसपी को कितने कैटेगरी में बांटा गया है।

Internet Service Provider (ISP) को तीन Category में बांटा गया है। Tier 1, Tier 2, Tier 3
Internet service provider Tier
Internet Service Provider  Tiers
Tier 1 ISP :- Tier 1 अन्य ISP की तुलना में सबसे बड़ी Company होती हैं। जो विभिन्न देशों को Internet से जोड़ने का कार्य करती हैं। ये कंपनियां समुद्र के अंदर Sea Link Cabel बिछा कर सभी देशों के बीच Internet प्रदान करने का काम करती हैं।
Internet User जो भुगतान करता है उसका सबसे ज्यादा हिस्सा इस Tier 1 Company को जाता है।
Tier 2 ISP :- Tier 2 ISP company Tier 1 की तुलना में छोटी कंपनी होती हैं। जब Tier 1 कंपनी समुंद्र के जरिए Internet लाने का कार्य करती है तब Tier 2 Company देश के विभिन्न राज्यों और शहरों तक पहुंचाने का कार्य करती है।
अतः Tier 1 Company अलग अलग देशों तक Internet पहुंचाने का कार्य करती है और Tier 2 Company देश के राज्यो तक Internet पहुंचाने का कार्य करती है।
Tier 3 ISP :- Tier 3 ISP सबसे छोटी कंपनी होती है। Tier 3 शहर के अंदर Block, Colony, घरों तक Internet पहुंचाने का कार्य करती है।
Tier 3 ISP Company, Tier 2 ISP Cimpany से Internet लेकर घरों तक Internet पहुंचाने का कार्य करती है।

How does internet service provider works | इंटरनेट सेवा प्रदाता कैसे काम करता है

Internet की खास बात यह है कि इसका मालिक कोई नहीं है। Internet छोटे बड़े Globle Collection हैं जहां पर सभी Connection कहीं न कहीं एक जगह पर जुड़े होते हैं। और यही Networks दुनिया भर के सभी Computers को आपस में Connect करते हैं।
सभी Computer जो Internet से जुड़े होते हैं वे इस Network का हिस्सा बन जाते हैं। असल में Internet एक बहुत बड़ा जाल होता है Inter Connected Networks का। जैसे Computer के भाषा में Transmission Media कहते हैं। ये जाल एक vire होता है। जिसमे Information और Data दोनो दुनिया भर में घूमते हुए रहते हैं।
दुनिया के कोने कोने तक Internet की सुविधा पहुंचाने के लिए बहुत से Hi-Bandwidth Data Lence का इस्तेमाल किया जाता हैं जिसे Internet का Backbone भी कहा जाता है।
इन लाइंस को Connect किया जाता है अलग अलग लोकेशन में मौजूद मेजर Internet Hub के साथ और यही Hub Data को अलग अलग स्थानों पर Distribute करते हैं। इन Internet Hubs को ही Internet Service Provider यानी की ISP कहा जाता है।
ज्यातर ISPS, DSL, Cable या Fiber Cable Brodband Internet Access प्रदान करते हैं। अगर Computer के Router लगा हुआ है Internet चलाने के लिए तो वह Router भी एक ISP के साथ Internet प्रदान करता है। आपके ऑफिस में आपका computer कंपनी के वाईफाई से जुड़ा है तब भी आपकी कंपनी का किसी न किसी ISP के साथ Contract होता है तभी Internet की सेवा आपको मिल रही होती हैं।
उसी प्रकार जब एक पब्लिक वाईफाई के माध्यम से Internet यूज करते तब वहां पर भी wifi router एक ISP के साथ Connect होता है। आपको Internet प्रदान करने के लिए। Cellular data Tower भी किसी न किस ISP से जुड़ा होता है।
Smartphone में Networks के जरिए Internet प्रदान करने के लिए आज के समय में ISP कंपनियां Cable द्वारा Internet पहुंचाते हैं। वही कुछ कंपनियां धीरे धीरे wireless Internet की शुरुआत कर चुके हैं। ISP wired Medium के अलावा wireless networking system इंटरनेट सेवा प्रदान करते हैं।
पहले जब केवल सिस्टम द्वारा इंटरनेट की सेवा प्रदान की जाती थी इसके लिए नेटवर्क प्रोवाइडर कंपनी को पूरे एरिया में वायर बिछाने पड़ते थे। लेकिन wireless medium के शुरुआत होने के बाद सिर्फ टावर और सेटेलाइट के मदद से लोगों तक इंटरनेट पहुंचाया गया।
ISP के मदद से दुनिया के हर कोने में हर व्यक्ति तक Internet कि पहुंच बन सकी है। आज technology कि आगे बढ़ने से ISP कंपनियों के बीच कंपटीशन बढ़ गया है जिससे आम लोगों को इंटरनेट काफी संस्था मिलने लग रहा है। एक तरह से इन ISP कंपनियों ने ही पूरी दुनिया को इंटरनेट से जोड़ रखा है। जिनकी वजह से इंटरनेट के माध्यम से हम काफी जानकारी प्राप्त कर पाते हैं। हम से मिलो दूर रह रहे हैं परिवार और दोस्तों से हम जुड़ पाते हैं।
हमें उम्मीद है कि आपको इंटरनेट सर्विस प्रोवाइडर की जानकारी काफी पसंद आई होगी तो जल्दी से इसे लोगों के साथ शेयर करें कमेंट करें सब्सक्राइब करना तो भूले मत ताकि और जानकारी आपको मिल सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *