What is Radiation in hindi | रेडिएशन क्या है पूरी जानकारी | हिंदी में

आज के इस पोस्ट में हम जानने वाले हैं कि Radiation क्या है? इसका effect क्या है? ये हमारे लिए कितना harmfull है? सारी जानकारियां जानने वाले हैं तो चलिए शुरू करते हैं।
What is Radiation in hindi
Radiation क्या है पूरी जानकारी हिन्दी में

हमने अपने सुविधा के लिए कई प्रकार के उपकरणों को जन्म दिया है लेकिन इसका सबसे बड़ा नेगेटिव effect हमारे Environment पर हुआ है जिसके कारण हुआ है उसे Radiation Effect कहते हैं। जिसके वजह से बहुत सारी पक्षियों के प्रजातियां विलुप्त हो गई है यानी कि नस्ट हो गई है।

Radiation से मानव के कोशिका पर भी इसका प्रभाव पड़ता है। आज हम एक नई information के साथ आए हैं जिसके बारे में जानना आपके लिए लाभदायक होगा। इस पोस्ट में हम जानने वाले हैं कि Radiation यानी कि विकिरण के बारे में। विकिरण (Radiation) क्या है? विकिरण (Radiation) कैसे उत्पन्न होता है? विकिरण (Radiation) का हमारे दैनिक जीवन में क्या उपयोग है? इत्यादि के बारे में जानने वाले हैं तो चलिए शुरू करते हैं।

What is Radiation | विकिरण क्या होता है?

विकिरण (Radiation) किसे कहते हैं? विकिरण (Radiation) एक ऐसी ऊर्जा के स्रोत से आता है जो प्रकाश की गति से अंतरिक्ष (Space) में यात्रा करता है। विकिरण (Radiation) में एक विद्युत क्षेत्र और उससे जुड़ा एक चुम्बकीय क्षेत्र होता है और इसमें तरंग जैसे गुण होते हैं। आप विकिरण (Radiation) को विद्युत चुम्बकीय तरंगे भी कह सकते हैं। ये एक ऐसी ऊर्जा होती है जो तरंगों के सहारे चलती है। जिन्हे कई नामों से जाना जाता है जैसे – रेडियो तरंगे।
हमारे आस पास कई प्रकार के तत्व पाए जाते हैं जिसमे से कई प्रकार से किरणे (Rays) या ऊर्जा (energy) निकलती हैं। ऊर्जा या तरंग रेडियोधर्मी तरंगे या रेडियोधर्मी ऊर्जा कहा जाता है। Wireless संचार के लिए उपयोग किए जाने वाले प्रकाश, ऊष्मा, माइक्रोवेव, और रेडियो तरंगे सभी विकिरण (Radiation) के रूप में होते हैं। विकिरण (Radiation) में कण और तरंग विद्युत चुम्बकीय तरंगे शामिल होते हैं जो विभिन्न सामग्रियों द्वारा उत्सर्जित होने के साथ ऊर्जा उत्पन्न करते हैं।
यहां जिस तरह कि विकिरण (Radiation) की चर्चा की गई है उसे आयानकारी विकिरण (Ionizing Radiation) भी कहा जाता है। क्योंकि ये पदार्थ (matter) में आवेशित कणों या आयनों का उत्पादन कर सकता है। X-Rays, Gama Rays, Alpha Rays, Beta Rays और Nuetron इत्यादि आयानकारी विकिरण (Radiation) के उदाहरण है।

What is Natural Background Radiation | प्राकृतिक पृष्ठभूमि विकिरण क्या है?

सूर्य से निकले विकिरण ब्रह्मांडीय विकिरण या अंतरिक्ष (Space) से उत्पन्न विकिरण का एक प्रमुख स्त्रोत है। ज्यादा उचाई पर Airlines उड़ाने और स्किंग ऐसी गतिविधियां है जो इस ब्रह्मांडीय विकिरण (Radiation) के संपर्क में वृद्धि करेंगी।
कई इमारतें भी आयानी कृत विकिरण (Radiation) का उत्सर्जन इसलिए है क्योंकि उसे बनाने के लिए मिट्टी (Soil) के इटें (Bricks) और ग्रेनाइट जैसे सामग्री का इस्तेमाल किया गया था। ये सामग्रियां मूल रूप से रेडियोधर्मी है मतलब की Radiation पैदा करती हैं। 

How to Generated Radiation | विकिरण कैसे पैदा होता है? 

विकिरण (Radiation) वह ऊर्जा है जो तरंगों, विद्युत चुम्बकीय तरंगों या उच्च गति वाले कणों या पंच गति वाले कणों या पुंचकुलेट विकिरणों के रूप में यात्रा करती हैं। पुंचकुलेट विकिरणों (Punctured Radiations) तब होता है जब रेडियोधर्मी परमाणु खंडित हो जाता हैं।
आयनित विकिरण अस्थिर परमाणु द्वारा निर्मित होता है। स्थिर परमाणु अस्थिर परमाणुओं से भिन्न होते हैं। क्योंकि अस्थिर परमाणुओं में ऊर्जा या द्रव्यमान या दोनों की अधिकता होती हैं। विकिरण (Radiation) उच्च voltage विकिरणों जैसे कि x-ray machine द्वारा भी उत्पादित किया जा सकता है। स्थिरता तक पहुंचने के लिए ये परमाणु अतिरिक्त ऊर्जा या द्रव्यमान को छोड़ देते हैं या उत्सर्जित करते हैं।
दूसरी ओर विकिरण (Radiation) प्रकृति में भी मौजूद होता है। ये मिट्टी (soil) में, हवा (Air) में, पानी (water) में और हम में भी मौजूद होता है। हम हर दिन जो खाना खाते हैं, पानी पीते हैं और जिस हवा में सांस लेते हैं उसके माध्यम से इसका सामना करते हैं। ये उन वस्तुओं में भी है जिनका हम सामान्य उपयोग में लेते हैं।

Types of Radiation | विकिरण के प्रकार

विकिरण (Radiation) को दो भागों मे बांटा जा सकता है।

1. आयनीकृत विकिरण | Ionizing Radiation

आयनीकृत विकिरण (Ionizing Radiation) किसी भी पदार्थ में आयरन के मात्रा को बढ़ा देता है जो मनुष्य में उपलब्ध dna को नुक्सान पहुचात सकती है। क्योंकि Non Ionizing Radiation के मुकाबले ज्यादा power की होती है। क्योंकि इसमें इलेक्ट्रॉन बढ़ती या घटती रहती हैं। जिस कारण ये मानव शरीर या अपने आस पास के चीज़ों पर अपना अलग प्रभाव छोड़ती हैं।
कुछ Ionizing Radiation इतनी ताकतवर होती हैं कि को कैंसर कारक भी होती हैं। इसके तीन प्रकार होते है Alpha, Beta और photons. सबसे पहले बात करते हैं Alpha Radiation की।

1. Alpha Radiation | अल्फा विकिरण

अल्फा विकिरण (Alpha Radiation) प्रकाश की गति का केवल 10 प्रतिशत होती है। ये बहुत कमजोर Radiation है। ये बहुत पतली चीज़ को भी पार नहीं कर सकती। अगर किसी Radioactive साधन से Alpha Rays ने निकल रही है और उसके सामने कागज का टुकड़ा रख दिया जाए तो Radiation उस कागज के टुकड़े को भी पर नहीं कर पाएगी। हालांकि किसी भी तरह से ये rays हमारे शरीर के अंदर पहुंच जाए तो ये घातक साबित हो सकती है हमारे लिए क्योंकि इसमें धनात्मक आवेश (Positive Charge) होता है।

2. Beta Radiation | बिटा विकिरण

बीटा विकिरण (Beta Radiation) हमारे शरीर के अंदर प्रवेश कर सकते हैं। ये 0.1 से 1.3 सेंटीमीटर तक हमारे शरीर के अंदर प्रवेश कर सकते हैं। अगर ये हमारी त्वचा पर ज्यादा देर तक केंद्रित रह गया तो ये शरीर के कुछ हिस्से को जला सकता है। कोई भी ऐसी वस्तु जो 1.3 सेंटीमीटर से ज्यादा होती है उसे ये पार नहीं कर पाएगा जैसे दीवार। इसकी गति प्रकाश की गति का 90 प्रतिशत होता है तथा इसमें नेगेटिव चार्ज होता है।

3. Photon Radiation | फोटोन विकिरण

फोटोन विकिरण (Photon Radiation) दो प्रकार के होते हैं गमा Radiation और X Radiation.
1. Gama Radiation | गामा विकिरण
गामा विकिरण (Gama Radiation) प्रकाश की गति के बराबर होती है। ये शरीर के आर पार जा सकती है तथा सबसे ज्यादा नुक्सान होता है शरीर को इसमें कोई भी चार्ज नहीं होता।

2. X Radiation | एक्स विकिरण

एक्स विकिरण (x Radiation) गामा विकिरण (Gama Radiation) के मुकाबले कम ताकतवर होते हैं। अतः ये गामा विकिरण के मुकाबले शरीर पर कम नुक्सान पहुचाते है।


Effects of Ionizing Radiation of our Life | हमारे जीवन पर आयनीकृत विकिरण के प्रभाव

आयनीकृत विकिरण (Ionizing Radiation) हमारे जीवन पर तब हानिकारक होता है जब ये अधिक मात्रा में हमारे शरीर पर पड़ता है। इसके कुछ मुख्य प्रभाव इस तरह से है।

1. ये हमारे शरीर के कोशिका (cell), ऊतक (tissue), अंग (Organ) यहां तक के पूरे शरीर पर प्रभाव साल सकती हैं। जिससे शरीर के कई अंग (organ) हमेशा के लिए काम करना बंद कर सकते हैं। या लंबे समय तक खराब रह सकते हैं।

2. ये हमारी डीएनए को खराब कर सकती हैं।

3. मानव शरीर में पानी की मात्रा सबसे अधिक होती हैं। अगर ये Rays हमारे शरीर के water लेवल पर प्रभाव डालती हैं तो ये हमारी हड्डियों को तोड सकती हैं।

4. ये हमारे शरीर के रक्तचाप पर प्रभाव डाल सकती हैं।
 ये blod counts को बढ़ा घटा सकती हैं।

5. कुछ और भी प्रभाव हो सकती हैं जैसे स्किन का जलना, बालो का झरना इत्यादि। 


2. Non Ionizing Radiation | गैर आयनकारी विकिरण

ये विकिरण (Radiation) कम पावर की होती है क्योंकि इसमें से जितनी ऊर्जा निकलती हैं वो आयरन के विकाश के लिए पर्याप्त नहीं है। इस कारण यह मुख्यत हमारी कोशिका (cell) में मौजूद DNA को नुक्सान नहीं पहुंचा पाती इसी लिए ये कैंसर कारक नहीं है।
इसमें कई प्रकार के चीजे शामिल जैसे light, Radar, Microwaves, और Radiowaves.

Effects of non ionizing radiation of our life | हमारे जीवन के गैर आयनीकरण विकिरण के प्रभाव

Non-Ionizing Radiation में कुछ ऐसे अपवाद होते हैं जो हमें काफी नुक्सान पहूचाते है। जैसे कि 

1. Laser Light | लेजर प्रकाश

Cosmatic surgery में इसी लेजर लाइट का इस्तेमाल किया जाता है। ये हमारी त्वचा को जला सकती हैं।

2. Ultra-violet Rays | पराबैंगनी किरणे

पराबैंगनी किरणें (ultra-violet Rays) हमारे शरीर को कई प्रकार के नुक्सान पहुंचा सकती हैं। Sun Burn या turning इन सब के सबसे अच्छे उदाहरण हैं। पराबैंगनी किरणें (ultra-violet radiation) आंखों के लिए भी हानिकारक होती हैं। Uv Rays से मोतियाबिंद कि भी समस्या हो सकती है।

3. Skin Cancer | त्वचा कैंसर

Non-Ionizing Radiation से जो सबसे ख़तरनाक समस्या होती हैं वो है Skin Cancer यानी कि त्वचा कैंसर।
Non-Ionizing Radiation के प्रभाव कई कारकों पर निर्भर करते हैं जैसे कितनी ऊर्जा का प्रयोग किया जा रहा है। माध्यम क्या है और कितनी देर तक इस ऊर्जा का प्रयोग शरीर पर किया जा रहा है, पर्यावरण का प्रभाव आदि।

The positive effects of radiation in our lives |विकिरण का सकारात्मक प्रभाव हमारे जीवन में

ऐसा नहीं है कि विकिरण (Radiation) का केवल बुरे प्रभाव होते हैं। आज के समय में मानव के लिए विकिरण (Radiation) वरदान भी साबित हो सकता है। आप जानतें ही होंगे कि विष विष को काटता है कुछ इसी तरह Radiation के दुष्प्रभाव से कैंसर हो सकता है तो आपको जानकर ये खुशी होगी आज विज्ञान इतना आगे बढ़ गया है कि इसी radiation से कैंसर का इलाज भी हो रहा है।
Radiation Therapy कैंसर पीड़ित लोगो के लिए वरदान के तरह काम कर रहा है। कैंसर में असमान रूप से शरीर में कोशिका विकसित होते हैं जिन्हें नष्ट करने में Radiation Therapy काफी काम में लाई जा रही है। अगर सही तरीके से काम में लिया जाए तो हर चीज़ वरदान की तरह काम करती है।
हम आशा करते हैं कि हमारा ये प्रयास आपको पसंद आया होगा। ऐसी और जानकारी पाने के लिए हमे subscribe करें । ज्यादा से ज्यादा लोगों के साथ share करें। Comment करना ना भूलें कि आपको ये जानकारी कैसी लगी।
धन्यवाद
जय हिन्द!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *